पंचायत स्तर पर खेल इकाई की स्थापना

पंचायत स्तर पर खेल इकाई की स्थापना की जाएगी

खेल एवं युवा कल्याण तथा उच्च शिक्षा मंत्री श्री पटवारी ने संभाला कार्यभार भोपाल : जनवरी 1, 2019: खेल एवं युवा कल्याण तथा उच्च शिक्षा मंत्री श्री जीतू पटवारी ने आज मंत्रालय में कार्यभार ग्रहण करने के बाद अधिकारियों से कहा कि मध्यप्रदेश को खेल के क्षेत्र में देश में पहले पायदान पर लाना है। […]

Continue Reading
गेहू की फसल मे रोग प्रबंधन

गेहू की फसल मे रोग प्रबंधन

रबी फसल – गेहू  रोग प्रबंधन – गेहू आल्टरनेरिया ब्लाइट आल्टानेरिया पर्ण झुलसन जीवाणु अंगमारी और कडुआ रोग जीवाणु रोग पीला सड़न तुषाभ सड़न और जीवाणुपत्ती अंगमारी सूटी मोल्ड भुरे गेरूआ रोग जौ का पीत वामनता रोग वामनता बंट वामनता बंट 2 क्राऊन सड़न मुदुरोमिल आसिता, हरितबाली गेहूँ का अरगट रोग राईज़ोटोनिया सोलानी काला बिंदु […]

Continue Reading

गेहू की फसल मे कीट प्रबंधन

रबी फसल -गेहू  कीट प्रबंधन – गेहू माइट स्टिंक बग वायर वार्म एफिड फौजी कीट विभिन्न प्रजातियां थिप्स तना छेदक कीट टरमाइट रेटस रेटस ओलिना मेलोनपा एथीगोना विटूबरक्यूलेटा शूट फलाई मीरोमइज प्रजाति  मायेटीया डिस्ट्रकटर होलोट्राइकिया कोनसेग्यूनिया   कीट माइट प्रचलित नाम विभिन्न प्रजातियां क्षति ये रस चूसने वाले होते हैजिनकी एक मि.मी. लंबाई रहती है। […]

Continue Reading
सूरजमुखी की खेती में उर्वरक प्रबंधन

सूरजमुखी की खेती में उर्वरक प्रबंधन

रबी फसल – सूरजमुखी अन्तर सस्य क्रियायें अन्त:सस्य क्रियाओं की आवश्यकता पौधे की प्रांरभिक अवस्था में होती है। सस्य क्रियाओं में विरलन और रिक्त स्थानों को भरना आदि रहता है। पौधे के विकास के 40-50 दिन तक फसल को खरपतवार से मुक्त रखें। रबी फसल नींदाओं के प्रति संवेदनशील होते है इसलिए स्वच्छ खेती करें। […]

Continue Reading
सरसों की खेती में उर्वरक प्रबंधन

सरसों की खेती में उर्वरक प्रबंधन

फसल सिफारिश रबी फसल – सरसों अन्तर सस्य क्रियायें समय पर निदाई गुड़ाई से बीज और अनाज दोनों की उपज में वृध्दि होती है। सरसों के लिए विरलन और खाली स्थानों को बुआई के 15 से 20 दिन में भर देना चाहिए। फसल की प्रारंभिक अवस्था में खरपतवार के प्रकोप से बचाना चाहिए। सरसों के […]

Continue Reading
रबी फसल - चना

चने में उर्वरक प्रबंधन

फसल सिफारिशें रबी फसल – चना सुझाव कम और ज्यादा तापमान हानिकारक है। गहरी काली और मध्यम मिट्टी में बोनी करें। मिट्टी गहरी,भुरभुरी होना चाहिए। प्रमाणित और अच्छी गुणवत्ता, अच्छी अकुंरण क्षमता वाले बीजों का उपयोग करें। अपने क्षेत्र के लिए अनुमोदित किस्मों का उपयोग करें। मध्य प्रदेश में अक्टूबर के मध्य में बोनी करना […]

Continue Reading
गेहूं में उर्वरक प्रबंधन

गेहूं में उर्वरक प्रबंधन

फसल सिफारिशें रबी फसल -गेहूॅ उर्वरक 15-20 टन गोबर की सड़ी-गली खाद हर दो साल बाद खेत में डालें। गोबर की खाद डालने से भूमि की संरचना में सुधार और पैदावार में बढ़ोतरी होती है। ऊँची किस्मों के लिए उर्वरक सुझाव 40 कि नाइट्रोजन प्रति हेक्टेयर की दर से डाले … 20 कि फास्फोरस प्रति […]

Continue Reading

मिर्च की फसल में लगने वाले रोगों के बचाव के उपाय

मिर्च की खेती इस बार दगा दे रही है। कीटों का प्रकोप फसल को उखाड़ने के लिए किसानों को बाध्य कर रहा है। कीटों की पहचान और उनसे नुकसान के अलावा बचाव का उपाय सुझा रहे हैं कृषि विज्ञान केंद्र पीजी कॉलेज के फसल सुरक्षा वैज्ञानिक डॉ.आरपी सिंह। थ्रिप्स : कीट का रंग हल्का पीला […]

Continue Reading
Paddy_fields_in_India

धान की फसल में खरपतवार नियंत्रण के कारगर उपाय

धान की फसल में पाये जाने वाले प्रमुख खरपतवार सावां घास, सावां, टोडी बट्टा या गुरही, रागीया झिंगरी, मोथा, जंगली धान या करघा, केबघास, बंदरा- बंदरी, दूब (एकदलीय घास कुल के), गारखमुडी, विलजा, अगिया, जलकुम्भी, कैना, कनकी, हजार दाना और जंगली जूट हैं। खरपतवार नियंत्रण के लिए निम्रलिखित उपाय अपनावें:- 1. जहां खेत में मिट्टी […]

Continue Reading
स्पिरोलिना: कम निवेश तथा अच्छी आय

स्पिरोलिना: कम निवेश तथा अच्छी आय: रेखा संसानवाल

स्पिरोलिना (ऑरथो स्पाइरा प्लैटेंसिस), एक नील हरि‍त शैवाल (Blue green algae) है। यह एक पौष्टिक प्रोटीन आहार पूरक है और इसका उपयोग कई दवाओं के निर्माण और सौंदर्य प्रसाधनों में भी किया जाता है। इसमें  प्रोटीन, एंटीऑक्सिडेंट्स, कई विटामिन और खनिज प्रचूर मात्रा पाए जाते है। स्वस्थ जीवन शैली के लिए यह एक सूपर फूड के रूप में जाना जाता […]

Continue Reading