प्रधानमंत्री-फसल-बीमा-योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा के नाम पर बीमा कंपनी किसानों को इस प्रकार लुट रही है कि किसानों को मालूम भी नहीं चल रहा है ,जानते हैं कैसे ?

वैसे तो फसल बीमे की शुरुआत फसल क्षति से होने वाली किसानों की हानि को कम करने एवं खेती में किसानों के खतरे को कम करने के लिए की गई है परन्तु इससे अब यह देखा जा रहा है की इससे किसानों को कम लाभ एवं कम्पनियों को अधिक मुनाफा हो रहा है, आइये जानते […]

Continue Reading
charagah

चरागाहों को चरता विकास

अनेक गांवों के चरागाहों की जमीन पर तमाम प्रभावशाली लोगों या स्वयं पंचायतों ने कब्जा कर लिया। सरकार की सिंचाई योजनाओं के तहत भी तमाम चरागाह खेती की जमीन में बदल दिए गए। नहरों आदि के निकलने और मिट्टी खनन या अन्य कुछ बिना सोचे-समझे लागू की गई योजनाओं ने भी चरागाहों को लीला है। […]

Continue Reading
हरी खाद बनाने की विधि तथा लाभ:

हरी खाद बनाने की विधि तथा लाभ

मिट्टी की उपजाऊ शक्ति को बनाये रखने के लिए हरी खाद एक सस्ता विकल्प है । सही समय पर फलीदार पौधे की खड़ी फसल को मिट्टी में ट्रेक्टर से हल चला कर दबा देने से जो खाद बनती है उसको हरी खाद कहते हैं । आदर्श हरी खाद में निम्नलिखित गुण होने चाहिए उगाने का न्यूनतम खर्च न्यूनतम सिंचाई आवश्यकता कम से […]

Continue Reading
krishisahayakLogo

भारत के किसानों को भी अमेरिका और यूरोप की तर्ज़ पर एक फिक्स आमदनी की गारंटी दी जाए

आज जबकि खेती से घटती आय के कारण किसानों में रोष बढ़ता जा रहा है और कृषि ऋण की बकाया राशि को माफ़ किए जाने की मांग ज़ोर पकड़ रही है यह जानना ज़रूरी हो गया है कि अमीर देश अपने कृषि क्षेत्र का ध्यान किस प्रकार रखते हैं। आखिरकार, यदि फसलों की उच्च उत्पादकता ही […]

Continue Reading

MP में हिंसक हुआ किसान आंदोलन, मंदसौर में फायरिंग में 6 की मौत- क्या शिवराज सरकार किसान हत्यारी नही है ?

इंदौर. मध्य प्रदेश में जारी किसान आंदोलन में हिंसा का दौर थम नहीं रहा है। मंगलवार को मंदसौर में आंदोलनकारियों ने 8 ट्रक और 2 बाइक को आग के हवाले कर दिया। पुलिस और सीआरपीएफ पर पथराव भी किया। हालत पर काबू पाने के लिए सीआरपीएफ की फायरिंग में 6 लोगों की मौत हो गई। […]

Continue Reading
60 हजार करोड़ से ज्यादा कर्ज मध्य प्रदेश के 50 लाख किसानों पर

देश का आबादी जिस रफ्तार से बढ़ी है उससे किसान बढ़ने चाहिए थे, लेकिन जनगणना, 2001 के अनुसार जहां वे 127 लाख थे, वहीं जनगणना 2011 में ये घट कर 118.7 लाख रह गये हैं

किसान हेल्प के डॉ. आरके सिंह बताते हैं, “देश का आबादी जिस रफ्तार से बढ़ी है उससे किसान बढ़ने चाहिए थे, लेकिन जनगणना, 2001 के अनुसार जहां वे 127 लाख थे, वहीं जनगणना  2011 में ये घट कर 118.7 लाख रह गये हैं। इसकी मुख्य वजह खेती का फायदे का न होना और जमीनों का […]

Continue Reading
madhav_dave_photo

अनिल माधव दवे: एक पर्यावरण हितेषी का परिचय

अनिल माधव दवे (6 July 1956 – 18 May 2017) मध्य प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा सदस्य तथा भारत सरकार में पर्यावरण, वन तथा जलवायु परिवर्तन राज्य मंत्री थे। इनका जन्म उज्जैन (बड़नगर) में हुआ था। इनके पिता माधव दवे थे और माता पुष्पा देवी थी। अनिल माधव दवे पर्यावरण, वन तथा जलवायु […]

Continue Reading
सफल किसान जय प्रकाश

सफल सुशिक्षित किसान की कहानी

खेती से मुनाफा कमाने की आज सभी किसान सोचतें है, लेकिन इसके लिए सबसे जरूरी है कि किसान हमेशा नयी तकनिकी के साथ खेती करें | ये बात किसी से भी छिपी नहीं है कि विज्ञान ने बहुत तरक्की कर ली है और हमे उस तकनिकी के साथ हमेशा चलना चाहिए, जिससे हमे फायदा हो […]

Continue Reading
wheat crop fire in india

किसान का खेत नही जलता ,घर जलता है , अरमान जलते है,हजारों लोगों के मुह की निवाला जलता

किसान का खेत नही जलता ,घर जलता है , अरमान जलते है,हजारों लोगों के मुह की निवाला जलता आजकल अखवारों में रोज खबर छाप रही है की फलां जगह आग से कई एकड़ खेत में लगी फसल खाक , साथ ही कुछ लोग , बच्चे आग में झुलस कर मर गये , इसके बाबजूद भी […]

Continue Reading
दैनिक भास्कर ग्रुप के चेयरमैन रमेशचंद्र अग्रवाल जी

दैनिक भास्कर समाचार पत्र समूह के चेयरमैन श्री रमेशचंद्र अग्रवाल दिवंगत हुए

दैनिक भास्कर समाचार पत्र समूह के चेयरमैन श्री रमेशचंद्र अग्रवाल जी का निधन Dainik Bhaskar Group chairman Mr. Ramesh Agrawal passes away दैनिक भास्कर समाचार पत्र समूह के चेयरमैन श्री रमेशचंद्र अग्रवाल का बुधवार सुबह निधन हो गया। वे 73 वर्ष के थे। रमेशजी सुबह 9:20 बजे की फ्लाइट से दिल्ली से रवाना हुए और […]

Continue Reading